Blog Writing Kaise Kare | SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe

Blog Writing Kaise Kare | SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe

Blog Writing कैसे करे?

हेलो दोस्तों कैसे हो आप सब हम आज आपको ब्लॉग राइटिंग के बारे मे कुछ जरुरी जानकारी देने जा रहे है|दोस्तों मेरा नाम निर्मल राठौर है मे आपको ब्लॉगर यूट्यूब आदि के बारे मे यूनिक जानकारी देता हूँ।

चलिए आज हम आपको बताएगे की ब्लॉगइ राइटिंग कैसे करते है कैसे आप पोस्ट लिखे ब्लॉग वेबसाइट पर तो चलिए शुरु करते है।

  • TITLE OF POST 
  • SUBHEADING  
  • MINOR HEADING 
  • NORMAL
  • LABEL 
  • PERMALINK 
  • SEARCH DESCRIPTION 
  • IMAGE ALT TITLE 
  • OUTPUT LINK 
  • INTERNAL LINKING 

दोस्तों आज हम इन 10 टॉपिक के बारे मे जानकारी देंगे की आप कैसे अपने ब्लॉग मे आर्टिकल लिखे और मजबूत SEO करे अपनी पोस्ट का और ज्यादा से ज्यादा VISITORS आये आपकी वेबसाइट या ब्लॉग वेबसाइट पर तो ध्यान से पढियेगा ।

SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe

TITLE OF POST  : – टाइटल ऑफ़ पोस्ट जब हम किसी पोस्ट के लिखते है तो हम उस पोस्ट के लिए हम एक टाइटल जरूर देते है जैसे मान लो हम किसी पैसे कमाने के लिए कोई पोस्ट लिख रहे है तब उस िस्थति मे आपकी पोस्ट का टाइटल क्या होना चाइये। मेरे हिसाब से पोस्ट का टाइटल होना चाइये HOW TO EARN MONEY ONLINE इस टाइप से आपका पोस्ट टाइटल होना चाइये ।

ये आपकी पोस्ट की रैंकिंग के लिए बहुत जरुरी है आपको हमेसा पोस्ट टाइटल यूनिक देना चाइये तथा वर्डप्रेस कीवर्ड प्लानर का यूज़ करके आपको LOW कॉम्पिटिशन key वर्ड यूज़ करना चाइये ।

SUBHEADING :- ये बो हेडिंग होता है जब आप टाइटल देने क बाद पोस्ट लिखना स्टार्ट करते है । तब आपको एक SUBHEADING देना होता है इसको हम H2 के नाम से भी जानते है। जो लोग वर्डप्रेस यूज़ करते है वो लोग H1,H2, H3, H4, आदि नामो से जानते है ।

ये आपकी पोस्ट रैंकिंग के बड़ा देता है । जैसे मान लो आपने कोई पोस्ट टाइटल लिखा HOW TO EARN MONEY ONLINE ये एक पोस्ट टाइटल है । इस पोस्ट के लिए subheading कुछ अलग होना चाइये जैसे earn money online in india इस टाइप का आपका सब subheading होना चाइये इससे आपकी पोस्ट के लिए नई कीवर्ड भी मिल जायेगे और आपकी पोस्ट भी सुन्दर दिखेगी|

LABEL :- लेबल मतलब पोस्ट के लिए दिए गए कीवर्ड । आप अपनी पोस्ट के लिए जो कीवर्ड सलेक्ट करते है उनको हम लेबल कहते है । आपकी पोस्ट किस कैटेगेरी की है ये आपके लेबल से हे पता चलता है । इससे आपकी पोस्ट की रैंकिंग ग्रोथ होती है और आपकी पोस्ट जल्दी रैंक भी कर जाती है । ब्लॉगर मे लेबल का एक बहुत बड़ा योगदान है । लेबल का आपकी पोस्ट को रैंक करने मे जरुरी फैक्टर है ।

इसलिए आप जब भी कोई पोस्ट लिखते है । तो लेबल लगाना ना भूले अगर आप लेबल यूज़ नहीं करते है तो आपकी पोस्ट रैंक नहीं करेगी और आपकी पोस्ट की रैंकिंग ग्रोथ रुक जाएगी ।

PERMALINK :- पर्मालिंक कई लोगो को ये नहीं पता होगा की ये पर्मालिंक आखिर है क्या ? ये कुछ लोगो का सवाल भी होता है । खासकर उन लोगो क लिए जो नए ब्लॉगर है जिन्होंने अभी अभी नई ब्लॉग बनाया है। वो लोग इसके बारे मे नहीं जानते । तो हम आपको बता दे ये आपकी वेबसाइट और पोस्ट के लिए बहुत एहम हिस्सा है जो आपकी पोस्ट को रैंक करने के लिए सबसे ज्यादा जरुरी है ।

आइये जानते है परमालिंक है क्या दोस्त जब आप कोई पोस्ट लिखते है तो उस पोस्ट का एक Url ( यूआरएल ) होता है इस टाइप का https://technicalwidget.com/how-to-earn-money-online/  इस तरह का यूआरएल आपका पर्मालिंक कहलाता है ।

पर्मालिंक मे आपकी वेबसाइट और पोस्ट का टाइटल मौजूद होता है जिसकी मदद से आपकी पोस्ट आसानी से रैंक कर जाती है ब्लॉगर मे आपकी पोस्ट का पर्मालिंक आटोमेटिक बन जाता है लेकिन आप इसको अपने से लिखे |

SEARCH DESCRIPTION :- सर्च डिस्क्रिप्शन ये भी आपकी पोस्ट को रैंक करने क लिए बहुत जरुरी है इसमें आप अपनी पोस्ट से जुडी जानकारी यह ड़ाल सकते है इससे आपकी पोस्ट जल्दी रैंक कर जाएगी ।

IMAGE ALT TITLE :- इमेज ऑल्ट टाइटल दोस्तों याद रहे जब आप कोई पोस्ट लिखते है तो उसमे फोटो अपलोड करते है तो आप अपलोड किये गए फोटो मे ऑल्ट टाइटल लगाना ना भूले जिसके बहुत सरे फायदे आपको मिलेंगे । अब आप क मन मे ये सवाल जरूर होगा की आखिर फोटो से क्या फायदा मिलेगा दोस्तों गूगल मे अब कोई आपकी पोस्ट को या रेलेटेड पोस्ट को सर्च करेगा तो आपकी पोस्ट की फोटो गूगल इमेजेज मे दिखाई देगी जिससे आपकी पोस्ट पैर नई विजिटर आएगा और आपका टैफिक तेजी से बढ़ेगा तो ये फायदा होता है इमेज ऑल्ट टाइटल का इसलिए आप इमेज टाइटल का यूज़ जरूर करे ।

OUTPUT LINK :-  आउटपुट लिंक ये seo के फैक्टर को और मजबूत बना देता है इसकी हेल्प से आप किसी और वेबसाइट को प्रमोट या उस वेबसाइट से आप इंटरशिप कर सकते इससे आपके और उस वेबसाइट के रिश्ते या बैकलिंक मजबूत होते है और आपकी वेबसाइट पैर नई ट्रैफिक की चांस बढ़ जाते है ।

INTERNAL LINKING :- इंटरनल लिंकिंग इसकी मदद से आप अपनी अन्य पोस्ट के लिए बैकलिंक बना सकते है । इसलिए आपको इंटरनल लिंकिंग का उपयोग करना चाइये । इसकी हेल्प से आपके विजिटर आपकी अन्य पोस्ट को भी पढ़ सकते है इससे आपका seo भी मजबूत होता है ।

दोस्तों आपको हमारी ये पोस्ट कैसी लगी हमे कमेंट करके जरूर बताये आसा करता हूँ आप हमे पूरा सहयोग करेंगे ।

1 thought on “Blog Writing Kaise Kare | SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe”

  1. Pingback: Earn Money On Blog Website Without Adsense » Technical Widget

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *