Home Seo CDN Kya hai? increase web page loading Time in hindi

CDN Kya hai? increase web page loading Time in hindi

by Rohan Mathew

CDN क्या है? CDN कैसे काम करता है

दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं CDN के बारे में CDN कैसे काम करता है  और आखिर CDN क्या है? यह जानेंगे हम आज इस पोस्ट में दोस्तों मेरा नाम है निर्मल राठौड़ और आज हम आपके लिए लेकर आए हैं |

एक नई पोस्ट जो है सीडीएन क्या है और सीडीएन कैसे काम करता है इस पोस्ट के बारे में आज हम आपको बताएंगे किस तरीके से आप CDN से अपनी वेबसाइट के लिए Speed और Security को बढ़ा सकते हैं सीडीएन के माध्यम से तो चलिए दोस्तों बात कर लेते हैं सीडीएन के बारे में|

दोस्तों हम आपको बता दें कि CDN का पूरा नाम content delivery network होता है

दोस्तों सी डी एन का पूरा नाम देख कर आपको पता लग गया होगा कि यह कैसे काम करता होगा अगर आपको नहीं पता है तो चलिए हम बता देते हैं |

CDN क्या है?

दोस्तों CDN ऐसा content delivery network है जो आपके Content को Transfer करने का कार्य करता है | जैसे आपने देखा होगा बड़ी-बड़ी वेबसाइट है जैसे AmazonFlipcart व Other e-Commerce Website CDN का प्रयोग करती हैं | क्योंकि उनकी वेबसाइट पर Images ज्यादा होती हैं इससे उनकी वेबसाइट का लोड टाइम बहुत ज्यादा बढ़ जाता है जिसकी वजह से Bounce Rate बहुत ज्यादा हो जाता है और Visitor उस वेबसाइट को छोड़कर चला जाता है जिससे साइड की रैंकिंग भी कम हो जाती है व वेबसाइट का सर्वर ज्यादा लोड की वजह से टाउन पड़ जाता है |

इसलिए ज्यादा इमेजेस यूज करने वाली वेबसाइट वह ज्यादा लोड वाली वेबसाइट सी डी एन का प्रयोग करती हैं सीडीएन उनकी वेबसाइटों को बहुत तेजी से सर्व कराता है इसलिए अधिक लोड वाली वेबसाइट सी डी एन का प्रयोग करती हैं cdn कॉन्टेंट डिलीवरी नेटवर्क है जो आपके कांटेक्ट को Other Server पर convert कर देता है इसी को हम सीडीएन कहते हैं|

CDN कैसे काम करता है?

चलिए दोस्तों अब यह जान लेते हैं कि आखिर सीडीएन काम कैसे करता है तो दोस्तों हम आपको बता दें सीडीएन एक कांटेक्ट डिलीवर नेटवर्क है जोकि आपके कांटेक्ट को एक Server से दूसरे Server पर Transfer करता है यानी मान लो आपकी वेबसाइट अमेरिका में है और आपके Visitor इंडिया से हैं तो उस बीच में जो आपका Server Travel करता है तो वह यूज़र तक आने के लिए थोड़ा बहुत टाइम लगा देता है इसलिए आपकी वेबसाइट की स्पीड डाउन हो जाती है |

जिससे आपका Bounce Rate High हो जाता है अब आप यह पूछेंगे कि आखिर बाउंस रेट होता क्या है दोस्तों हम आपको बता दें बाउंस रेट वह होता है जब विजिटर आपकी वेबसाइट को ओपन करता है तो आपकी वेबसाइट ओपन नहीं हो पाती और विजिटर आपके Website को छोड़कर चला जाता है जिससे गूगल को यह पता लगता है कि Visitor इस वेबसाइट को नहीं पढ़ रहे हैं यi नहीं देख रहे हैं इसलिए गूगल को लगता है इस वेबसाइट पर कुछ अच्छा कॉन्टेंट नहीं है जिससे आपके साइड कi बाउंस रेट बढ़ा देता है व आपकी वेबसाइट की रैंकिंग को कम कर देता है इसलिए जो लोग ज्यादा इमेजेस यह ज्यादा बड़ी फाइलों का यूज अपनी वेबसाइट पर करते हैं वह लोग सीडीएन का उपयोग करते हैं

चलिए इमेज की मदद से जानते हैं कि किस तरीके से आपका सरवर काम करता है |

CDN के बिना वेब सर्वर

दोस्तों आपने देखा कि Without CDN से आपका वेब सर्वर Other country में जाते ही धीमा हो जाता है इसलिए होता है कि आपकी साइड का लोड बहुत अधिक होता है और आपका server इतना अधिक ट्रेवल कर नहीं करता क्योंकि आपकी वेबसाइट पर ज्यादा इमेजेस व अधिक लोड होने के कारण आपका Server अधिक लंबी दूरी तय नहीं कर पाता और विजिटर तक जाते-जाते वह धीमा हो जाता है जिससे विजिटर आपकी वेबसाइट को open नहीं कर पाता अगर कर भी पाता है तो उसको काफी टाइम लग जाता है आपकी साइड को लोड होने में |

दोस्तों इस से आप समझ गए होंगे कि आपका Server कैसे काम करता है बिना सीडीएन के |

दोस्तों अब जान लेते हैं कि CDN के साथ आपका Server कैसे काम करता है और आपकी वेबसाइट किस तरीके से विजिटर को आसानी से ओपन हो जाती है

Read Also: Youtube Video se paise kaise kamaye

CDN Web Server

दोस्तों आपने देखा कि जब आपका Server CDN के साथ जुड़ जाता है तो कुछ इस तरीके से कार्य करता है क्योंकि cdn कांटेक्ट डिलीवरी नेटवर्क है जो 1 SERVER से दूसरे SERVER पर आपके वेबसाइट को ट्रांसफर करता है यह आपके वेबसाइट के Cache File को सेव कर लेता है तथा उसी से आपकी वेबसाइट को ट्रेवल कराता है CDN के सर्वर पूरे WORLD में होते हैं जिससे किसी भी देश का व्यक्ति या विजिटर किसी भी देश की वेबसाइट को आसानी से अपने मोबाइल या लैपटॉप में ओपन कर लेता है यह सब सीडीएन की मदद से हो जाता है दोस्तों जो आप सरवर यूज करते होंगे वह हर जगह नहीं होता इसलिए सीडीएम का प्रयोग करके आप अपनी वेबसाइट की सिक्योरिटी है स्पीड को बढ़ा सकते हैं यह आपकी WEBSITE SPEED को ऑप्टिमाइज कर देता है और आपके WEB CACHE के साथ आपकी वेबसाइट को तुरंत delivered कर देता है

वेब सर्वर को सीडीएन के साथ कनेक्ट किस प्लेटफार्म से करें?

दोस्तों आप इस सर्वर के जरिए से अपनी वेबसाइट को CDN SERVER में कन्वर्ट कर सकते हैं और सीडीएन के साथ अपनी वेबसाइट को फ्री में आप जोड़ सकते हैं ?

दोस्तों आप इन सीडीएन सर्वर प्रोवाइडर के साथ अपनी वेबसाइट को जोड़कर CDN में कन्वर्ट कर सकते हैं |

FREE CDN SERVER PROVIDER

दोस्तों इन सब सर्वर में आप फ्री में अपनी वेबसाइट सर्वर को Cloudflare सर्वर के साथ कनेक्ट कर सकते हैं वह भी बिल्कुल फ्री है इसमें आपको फ्री में CDN SERVER मिल जाएगा और आपको किसी भी तरीके का कोई पैसा देने की जरूरत नहीं है |

Read More…

Youtube Video se paise kaise kamaye

Related Articles

2 comments

Dk March 18, 2021 - 8:02 am

आपकी पोस्ट CDN क्या है? पढ़ी बहुत ही अच्छी लगी | आप के CDN क्या है? विशेष कर बाउंस रेट होता क्या है ,CDN कैसे काम करता है,लेख पढ़ कर बहुत सारे जानकारी मिली | ThankQ

Reply
Domain Name Kya Hai? Free Me Domain Kaise Le – Technical Widget April 23, 2021 - 2:53 pm

[…] CDN Kya hai? increase web page loading Time in hindi […]

Reply

Leave a Comment